सेहत समाचार

Oats info in Hindi

Oats means in Hindi | ओट का हिंदी मतलब, फायदे और रेसिपीज

इस लेख में जानकारिया

वैसे तो ओट्स एक शानदार आहार है. परन्तु इसके नुक्सान भी हो सकते है. कुछ नुक्सान नीचे दिए

१- अत्यधिक ऊर्जा होना।

१०० ग्राम ओट्स में ही ४०० कैलोरीज की ऊर्जा होती है. ओट्स में कुछ तत्व है जो आपके मोटापे को नियंत्रित करते है.

परन्तु अगर आप बहुत अधिक ओट्स का सेवन करेंगे तो आपको ओट्स के फायदे की जगह नुकसान होने लगेगा।

मान लीजिये आपकी दिन की कुल ऊर्जा की जरूरत २००० कैलोरीज है. अगर आपने १०० ग्राम ओट्स भी दिन भर में चार बार खा लिए तो आपकी ऊर्जा की जरॉरोअत पूरी हो जाएगी।

साथ में अगर आप दूध, शक्कर इत्यादि और पदार्थ मिलते है तो आपको जरूरत से ज्यादा कैलोरीज मिलेगी जो आपमें मोटापा बढ़ा सकता है.

इसलिए ओट्स प्लान करके ही खाये।

२-  ग्लूटन सेंसिटिविटी

ओट्स में ग्लूटन नहीं होता। परन्तु इसको अगर ग्लूटन युक्त किसी फसल के साथ उगाया जाता है तो इसमें भी ग्लूटन प्रदुषण हो सकता है.

इसलिए जिन लोगो को ग्लूटन से अलेर्जी है वो ग्लूटन फ्री ओट्स देख कर ही खाये।

३ – बिना चबाये ओट्स नहीं खाना चाहिए।

जिन लोगो को लकवे की वजह से खाने की नाली में सिकुड़न है, या जिन्हे दन्त नहीं है या जो लोग किसी भी कारन से चबा कर नहीं खा सकते उनको साबुत ओट्स से बना कोई पदार्थ न खिलाये।

ओट्स पानी अवशोषित करके फूल जाता है।  इसलिए खाने के नाली, अंतड़ियो या पेट में फुले हुए ओट्स की वजह से रुकावट पैदा हो सकती है.

ओट्स के प्रकार (Types of oats in Hindi )

इंस्टेंट ओट्स | Instant oats

आप जो बाजार से पकाओ खाओ टाइप की ओटमील के पैकेट लाते है वो अक्सर इंस्टेंट ओट्स होते है.

इनमे पोषक तत्त्व कम होते है क्योकी इनको अत्यधिक प्रोसेस किया जाता है। 

परन्तु ये बात याद रखने की है की ओट्स को अगर आप ओरिजिनल फॉर्म में खाएंगे तो उसको पकने में बहुत ज्यादा समय लगेगा।

इसलिए इंस्टेंट ओट्स में कोई बुराई नहीं अगर आपके पास समय कम हो.

साथ ही इंस्टेंट ओट्स काफी अलग अलग स्वादों में आते है. बनाने में भी काफी आसान होते है.

स्टील-कट ओट्स | Steel-cut oats

Also known as Irish oatmeal. 

इसको आयरिश ओटमील भी कहा जाता है.

इसमें ओट्स के दानो को ब्लेड के माध्यम से इस तरह पीसा जाता है की एक दान तीन चार टुकड़ो में कट जाता है.

इस प्रकार ओट्स के ऊपर की परत खुल जाती है. और जब पानी में सोखते है तो ये पानी जल्दी सोख लेते है. इनको बनाना भी अपक्षाकृत सरल होता है.

इसको बहुत लोग चावल की जगह खाते  है. हालाँकि कैलोरीज के मामले में दोनों ही लगभग बराबर है पर मिनरल्स और फैटी एसिड्स के मामले में ओट्स बाजी मार ले जाते है. 

रॉ ओट्स | Raw Oats

विदेशो में कुछ लोग रॉ ओट्स ही पसंद करते है. रॉ ओट्स का मतलब है खेतो से कटा हुआ ताजा ओट. 

इसमें ओट का दाना पूरा होता है और पकने में इसको समय ज्यादा लगता है. 

पर स्वाथ की दृष्टी से देखे तो ओट्स का ये प्रकार सबसे ज्यादा पौष्टिक होता है. 

स्कॉटिश ओट | Skottish oats 

इसमें ओट्स के दानो को सीधे पीस दिया जाता है. 

इस वजह से ये महीन और आसानी से पकने वाले हो जाते है. साथ ही ये स्टील कट ओट्स से ज्यादा बढ़िया और स्वादिष्ट खीर बनाने में काम आते है. 

रोल्ड ओट्स और ओल्ड फैशण्ड ओट्स | Rolled oats or old fashioned oats 

ये ओट्स को उपयोग में लाने का पुराण तरीका है. इसलिए इसको ओल्ड फैशण्ड ओट्स भी कहा जाता है. 

इसमें ओट्स को भाप में रख कर थोड़ी देर पकाते है. 

फिर इसको रोलर में दाल कर दानो को चपटा कर लेते है. भारत में चना जोर भी इस प्रकार से चपटा किया जाता है. 

इससे इसको पकाना आसान हो जाता है और स्टोर भी आसानी से किये जा सकते है. 

ओट फ्लोर | Oat flour 

ये दानो को पीस कर बनाया गया ओट्स का आटा होता है. इसकी रोटियां इत्यादि व्यंजन आसानी से बनाये जाते है. 

जिन लोगो को ग्लूटन से समस्या होती है वो इस प्रकार का आटा उपयोग में लाना पसंद करते है. 

ओट बार्न | Oat barn 

ये ओट्स के बेजो का छिलका है. जैसे धान में से गेहू का दाना अलग करने पर जो भूसा बच जाता है वैसे ही ओट्स का भी होता है. ये बार्न पशु आहार में काम लिया जाता है. 

Pages: 1 2 3 4 5 6

Click to comment

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

To Top